haa mujhme attitude hai gtalks, Haa mujhme attitude hai ! gtalks poetry, hindi shayari ,poetry in gtalks

Haa mujhme attitude hai ! gtalks poetry

हाँ मुझमे ऐटिटूड है

हाँ मुझमे ऐटिटूड है ,
क्योंकी मुझे किसी गलत बातो मे साथ देना नहीं आता
लोगो का झूठा चेहरा मुझे एक नजर नहीं भाता ,

लोग है मे हां मिलकर बाते करते है आजकल ,
और मुझे हर बात मे हां करना नहीं आता ,
सारे बातो का मतलब अगर ये निकलता है ,
की मुझमे ऐटिटूड है ,
तो हां मुझमे ऐटिटूड है

कमिया बहुत है मुझमे
पर मे किसी को नुकसान नहीं पहुँचाती
कमिया बहुत है मुझमे
पर मे किसी को नुकसान नहीं पहुँचाती
तकलीफ मुझे भी है पर मे किसी से नहीं गिनवाती

तो फिर क्यों ये सोसाइटी हर वक़्त लड़कियों को ,
लहजे मे रहने की बाते करती है
लड़को के साथ अलग और लड़कियों के साथ अलग बर्ताव करते है
अगर इन सारे बातो के कार्यकर्म मे ,
अगर ये दीखता है मुजमे ऐटिटूड है ,
तो हां मुझमे ऐटिटूड है ,

बदनाम है हर वो रिश्ता,
अपना होने का दिखावा करते है
बात तो जरूरत की होती हैं वरना
तो वो हर बात से मुकर जाते है ,
इल्जाम ऐसे ऐसे लगाए दिल मे छेद कर जाये ,
और बात यु पलट मुस्कुराने का दिखावा करते है ,
और अगर फिर मुँह तोड़ जवाब दे दिया जाये रैल्टिवेस को ऐसे ,
तो फिर कहते है देखो देखो इसमे तो ऐटिटूड है ,
सारे बातो का मतलब अगर ये निकलता है ,
की मुझे ऐटिटूड है ,
तो हां मुझमे ऐटिटूड है ,,

HAAN MUJHME ATTITUDE HAI

AAKANKSHA ❗ POETRY ❗ G TALKS

haan mujhme attitude hai ,
kuki mujhe kisi galt baato mai sath dena nahi ata
logo ka jhuta chera mujhe ek najar nahi bhata ,

log ha mai haa milkar baate krte hai ajkl ,
or mujhe haar baat m haa krna nahi ata ,
saare baato kaa matlab aagr ye niklta hai ,
ki mujhe attitude hai ,
too ha mujhme attitude hai

kamiya bhut hai mujhme
par mai kisi ko nuksan nhi pohchati
kamiya bhut hai mujhme
par mai kisi ko nuksan nhi pohchati
takleef mujhe bhi hai par mai kisi se nahi ginwati

to fir kiu ye society har waqt ladkiyo ko ,
lehje mai rehne ki baate krti hai
ladko ke sath alg or ladkiyo ke sath aalg bartav krte hai
agr in sare baato ke karekarm mai ,
agar ye dikhta hai mujme attitude hai ,
too haa mujhme attitude hai ,

badnam hai har woo rishta vo
apna hone dikhawa krte hai
baat to jarurt ki hoti hain warna
to vo har baat se mukar jate hai ,
iljam aise aise lgaye dil mai ched kar jaye ,
orr baat yu palat muskurane ka dikhwa karte hai ,
badnam hai har woo rishta
vo apna hone dikhawa krte hai
or agr fir muh tod jawab de diya jaye realtives ko aise ,
to fir kehte hai dekho dekho issme to attitude hai ,
saare baato kaa matlab aagr ye niklta hai ,
ki mujhe attitude hai ,
too ha mujhme attitude hai ,,

written by AAKANKSHA ❗ POETRY ❗ G TALKS

G Talks, G Talks Poetry, Love Poetry, sad poetry, G Talks Videos

#GTalks,#Hindipoems,#Bestpoems

Leave a Reply